126राय
2m 10sलंबाई
1रेटिंग

लोक सभा में अपने हिमालय क्षेत्र में बागवानी उद्यानकी वानिकी की समस्याओं के प्रति सरकार का ध्यान आकर्षित किया और उनसे अनुरोध किया कि हिमालय उद्यानकी/वानिकी मिशन की स्थापना अविलम्ब की जाये | अपने वक्तव्य में मैंने हिमालीय क्षेत्र के महत्व की चर्चा की और बताया की हिमालयी क्षेत्र दुर्लभ जडीबुटी बेमोसमी सब्जी तथा प्राक्रतिक फलों के उत्पादन का एकमात्र केंद्र है तथा यह क्षेत्र पुरे देश के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है | इन पर्वतीय क्षेत्रों में बागवानी की असीम संभावनाये है पर दुर्भाग्य से संसाधनों के अभाव में उन्नत तोर तरीकों की कमी के चलते और प्रोधोगिकी के नितान्त अभाव के कारण इन क्षेत्रों में बागवानी उत्पादन बहुत कम है | अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा मैं तो हम अन्य देशों के मुकाबले बहुत पीछे हैं| नीतियों और संसाधनों के अभाव मैं यह क्षेत्र बहुत पिछड रहा है वही यहाँ तेजी से पलायन होना देश के लिए संकट का विषय बनता जा रहा | आजकल रासायनिक खादों के बेतहाशा उपयोग की उत्पादित सब्जियों के सेवन से इंसान तमाम प्रकार की बीमारियों का शिकार हो रहा है | 15 वर्ष का बालक भी मधुमेह और 25 वर्ष का नवजवान हर्दय रोग का शिकार होता जा रहा है | मैंने सरकार से अनुरोध किया कि हिमालयी क्षेत्र के समग्र विकास में एक मील का पत्थर बनने वाली हिमालयी राज्यों के लिए अलग से उद्यानकी/ वानिकी मिशन का गठन किया जाए तथा एक अहम् नीति बनाकर यहाँ की बहुमूल्य जैव विविधता का भरपूर उपयोग देश के लिए कर सकें | मैंने इस बात पर भी बल की पूरे विश्व में बागवानी उत्पादों खासकर दुर्लभ जडीबुटी एवं आर्गेनिक उत्पादों की अत्यधिक मांग है इसलिए समूचे क्षेत्र में जड़ी बूटी, फल उत्पादन, पुष्प उत्पादन के साथ-साथ बागवानी पर आधारित खाद् इकाइयाँ भी लगायी जानी चाहिए | पूरे क्षेत्र में कलमी उच्च किस्म के पोधों का वितरण, उत्पादन, क्षेत्रफल विस्तार हेतु नर्सरी की स्थापना, विभिन्न पहलुओं पर किसानो को प्रसिक्षण देने के लिए सहायता, संगठित बाजार हेतु उपयुक्त प्रणाली का विकास, निर्यात क्षमता का विकास और अनुसंधान विकास को बढावा दिया आना अति आवश्यक है तथा सब्जी पट्टी / फल पट्टी का निर्माण, भण्डारण के लिए कोल्ड स्टोरेज का निर्माण तथा उत्पादन व वितरण की प्रभावी व्यवस्था लागु करने की भी अति आवश्यकता है |